तरकश

'तरकश' में कई तरह के तीर होते हैं जो जानलेवा, घातक या कम घातक हो सकते हैं। नाम के अनुरूप ऐसे हीं लेख आपको मेरे ब्लॉग में पढ़ने को मिलेंगे।

24 Posts

7 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 15307 postid : 1118175

उजाड़कर रख देंगे इस बाग को -मुस्लिम धर्मगुरू

  • SocialTwist Tell-a-Friend

सुन लो कान खोल के..कान खोल के सुन लो.. तारीखों की एजेंसिया..और तमाम वो लोग जिनके हाथों में शकीन है…कसम उस पूरा रमीन की… हमारे हाथ में भी हर हथि..हथियार आ सकता है, अगर हम चाहे तो..हर हथियार आ सकता है…हर हथियार आ सकता है …उजाड़ कर रख देंगे इस बाग को.. खत्म कर देंगे इस ???? तमाम को.. कैसा पार्लियामंट..कैसी असेंबली..मिस्टर..मिस्टर यादव..मिस्टर..मुलायम सिंह यादव…और मिस्टर अखिलेश सिंह यादव सिंह सुन लो कान खोल के.. अगर तुमने जल्द से जल्द इस पर पाबंदी नहीं लगाई तो भी असेंबली के अंदर घुस जाएंगे और तुम्हारी सारी कुर्सी मेजे तोड़ कर फेंक  देंगे.. अपना कानून चलाएंगे..और मोदी जी सुन लो इस बात को कि जिस दिन ये काफिला.. मुजाहिद्दीन का..दिल्ली चला गया उस दिन पालिर्यामंट साबुत नहीं रहेगा..कोई कुर्सी साबुत नहीं रहेगी..कोई वहां का एमपी-एमएलए साबुत नहीं बचेगा..कत्लोगारदगरी हो जाएगी..बच नहीं सकता किसी कीमत पर भी इस हिंदुस्तान का नक्शा..हजारो टुकड़े हो जाएंगे इस देश के..कैसी सलामती..कोई मुसलमान अमनपसंद नहीं चाहता यहां पे..हम कोई अमनपसंद नहीं हैं..हम इस्लाम के सच्चे मुजाहिद हैं। मुजाहिद रहेंगे और मुजाहिद मरेंगे।

(ऊपर जो लिखा है वह मैं नहीं कह रहा हूं बल्कि एक मुस्लिम धर्मगुरू ने  (13/12/2014) कहा था जिन्हें आप के सामने ज्यों की त्यों रखने की कोशिश की गई है। ऐसा करने के पीछे आपको सचेत करना है न कि  आप को भड़काना। जो कुछ कहा गया है उसे उसी रूप में रखने की भरसक कोशिश की गई है। फिर भी किसी भी तरह के भ्रम से बचने के लिए खबर से संबंधित वीडियो देखें।)

वीडियो का लिंक ये है..

https://www.youtube.com/watch?v=vNQKL4KdGu4

(इस वीडियो का लिंक शेयर करने का मकसद आपको जागरूक करना है न कि आपको गुस्सा दिलाना या भड़काना)

वीडियो में जो कहा गया है उसे मैंने उन लोगों के लिए लिखा भी है जिनके पास वीडियो सुनने की सुविधा नहीं होगी। लेकिन दावा करने वाले शख्स  के यक़ीन, नफरत भरे तेवर व जोश का अंदाजा लगाने के लिए वीडियो को देखना ही नहीं बल्कि सुनना भी जरूर चाहिए। वीडियो में जो बातें कही गई हैं वो धर्मांतरण के चलते कही गई हैं। एक बार फिर से याद दिला दूं कि वीडियो का लिंक शेयर करने का उद्देश्य आपको भड़काना हरगिज नही है। हां..ठहाका लगाने की पूरी छूट है।

नीचे दिए लिंक पर कथित मुस्लिम धर्मगुरु के इस भड़काऊ भाषण से संबंधित खबर पढ़ सकते हैं।

http://www.samaylive.com/regional-news-in-hindi/uttar-pradesh-news-in-hindi/296931/i-will-kill-narendra-modi-akhilesh-yadav-muslim-guru.html

http://samacharpradesh.com/news.php?post=67328&title=

इस भड़काऊ भाषण के संबंध में कुछ खास बातें..

1- ये भाषण करीब 1500 लोगों की भीड़ में दिया गया।

2- भाषण देने वाले  कथित धर्मगुरु के यक़ीन, नफरत भरे तेवर और जोश गौर करने लायक हैं।

3- भाषण की वजह धर्मांतरण है।

4- भाषण देने वाले धर्मगुरु के खिलाफ कोई कार्रवाई करने की कोई सूचना  संज्ञान में नहीं है।

5- भाषण में आग उगलने वाले इस शख्स पर कोई बड़ा ऐतराज सामने नहीं आया है।

6- गौर करने वाली बात ये है कि मामले से संबंधित पूरा वीडियो उपलब्ध नहीं है। इसलिए और

क्या कहा गया था उसका सिर्फ अनुमान ही लगाया जा सकता है।

7- 1500 लोगों की भीड़ में भाषण के वक्त प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी भी मौजूद थे।

8- मुरादाबाद जिले में बाबरी मस्जिद ऐक्शन कमिटी के कार्यक्रम में ये भाषण दिया गया था।

9- भाषण के वक्त शहर इमाम और बाबरी मस्जिद ऐक्शन कमिटी के अध्यक्ष भी मौजूद थे।

इस वीडियो का लिंक शेयर करने का मक्सद सिर्फ इतना है कि हर भारतवासी को हर समय सावधान व सचेत रहने की आवश्यकता है न कि भड़कने या भड़काने की। छोटी-2 बातों पर आपको गलत रास्ते पर धकेलने वाले लोग कदम-2 पर मिल जाएंगे लेकिन आपको सावधान रहने की जरूरत है। वहीं देश व राज्य सरकारों को भड़काऊ भाषण देने वाले ऐसे हर शख्स पर कड़ी कार्रवाई करने की आवश्यकता है ताकि दूसरा कोई भी ऐसी बातें करने की हिम्मत न कर सके।

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran